अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को वापस बुलाये तुर्की : तालिबान

काबुल/अंकारा,

तालिबान ने तुर्की से अन्य नाटो देशों के पदचिन्हों पर चलते हुए अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को वापस बुलाने के लिए कहा है। तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने एक बयान में कहा कि नाटो सदस्य के रूप में तुर्की को 29 फरवरी 2020 को अमेरिका के साथ हस्ताक्षरित समझौते के मुताबिक अफगानिस्तान से अपनी सेना वापस बुला लेनी चाहिए। उन्होंने सितम्बर की समयसीमा तय करते हुए कहा कि इससे पहले अफगानिस्तान में मौजूद सभी विदेशी सेना, ठेकेदार , सलाहकारों और प्रशिक्षकों को यहां से चले जाना चाहिए।

अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को वापस बुलाये तुर्की : तालिबान
उन्होंने कहा, “ तुर्की एक बड़ा मुस्लिम देश है और अफगानिस्तान के साथ उसके ऐतिहासिक संबंध हैं। हमें उम्मीद है कि भविष्य में हमारे देश में नयी इस्लामी सरकार बनने के बाद तुर्की के साथ मजबूत और सकारात्मक संबंध होंगे।” दूसरी तरफ तुर्की के एक अधिकारी ने सोमवार को मीडिया से कहा था कि उनका देश अफगानिस्तान में सुरक्षा प्रदान करने के अलावा काबुल में हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के संचालन के लिए वित्त पोषण में योगदान देगा। इससे पहले गत जून में तुर्की के अंताल्या में तुर्की , ईरान और अफगानिस्तान के विदेश मंत्रियों की त्रिपक्षीय बैठक में तीनों देशों के नेताओं ने अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया में परस्पर योगदान देने और क्षेत्र में आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष की प्रतिबद्धता जतायी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *