सरकारी स्कूलों के छात्रों को विश्व स्तरीय सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध: सिसोदिया

नयी दिल्ली, 

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि केजरीवाल सरकार दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे छात्रों को विश्व स्तर की गुणवत्ता युक्त शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है। श्री सिसोदिया ने मैदानगढ़ी में गवर्मेंट को-एड सर्वोदय सेकेंडरी स्कूल के नए बिल्डिंग ब्लाक का शिलान्यास करने के बाद शनिवार को कहा कि केजरीवाल सरकार दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले हर बच्चे को विश्व स्तर की गुणवत्ता वाली शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है। दिल्ली में सरकारी स्कूलों के प्रति अभिभावकों का भरोसा बढ़ रहा है। इस सत्र में प्राइवेट स्कूलों से निकलकर 2.70 लाख बच्चों ने सरकारी स्कूलों में दाखिला लिया है। उन्होंने कहा कि छठी से दसवीं तक के इस स्कूल में इस सत्र में 200 नए बच्चे शामिल हुए हैं, जिनमें से ज़्यादातर प्राइवेट स्कूलों से आए हैं। स्टूडेंट्स की बढ़ती संख्या को देखकर यहाँ अत्याधुनिक सुविधाओं वाले 24 नए क्लासरूम का ब्लाक तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ये सभी क्लास रूम अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस स्मार्ट क्लास रूम होंगे। क्लास रूम में कंबाइंड डेस्क, प्रोजेक्टर और ऑनलाइन लर्निंग से जुडी सभी सुविधाएं भी मौजूद होंगी। साथ ही पर्यावरण के नजरिए से भी यह बिल्डिंग ब्लॉक काफी महत्वपूर्ण साबित होगा, क्योंकि इसकी छत पर सोलर पैनल लगाए जाएंगे। जो बिल्डिंग ब्लॉक की बिजली की खपत की आवश्यकताओं को पूरा करने का काम करेगा।


उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सात साल पहले यह सोचना भी मुश्किल था कि लोगों का सरकारी स्कूलों पर इतना भरोसा होगा कि वो प्राइवेट स्कूलों से निकाल कर अपने बच्चों का सरकारी स्कूलों में दाखिला करवाने लगेंगे, लेकिन केजरीवाल सरकार के गवर्नेंस मॉडल ने यह सच साबित करके दिखा दिया है। इसका नतीजा यह हुआ है कि इस साल 2.70 लाख बच्चों प्राइवेट स्कूलों से निकलकर सरकारी स्कूलों में दाखिला लिया है। उन्होंने कहा कि यह बहुत गर्व की बात है कि लोगों का दिल्ली के सरकारी स्कूलों पर भरोसा बढ़ रहा है और यह भरोसा हमारे शिक्षकों और शिक्षा विभाग के मेहनत की बदौलत बना है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों को विश्व स्तर की गुणवत्ता युक्त शिक्षा देने के लिए प्रतिबद्ध है। केजरीवाल सरकार की प्राथमिकता यह सुनिश्चित करना है कि दिल्ली के हर एक बच्चे को बेहतर शिक्षा मिल सके, ताकि हमारे बच्चे शिक्षित होकर विकसित भारत की नींव रख सकें। उन्होंने कहा कि यदि इस स्कूल को पास के निगम स्कूल से जगह मिल जाती है तो दिल्ली सरकार यहाँ एक स्पोर्ट्स की सुविधाओं से लैस एक शानदार खेल का मैदान तैयार करेगी। साथ ही एक स्विमिंग पूल भी तैयार करेगी, ताकि बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके और इस स्कूल से भविष्य के ओलंपियन निकलें, जो विश्व में भारत का नाम रौशन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *