श्रीलंका के खिलाफ पहले टी-20 मैच में भारत ने दर्ज की आसान जीत

लखनऊ, 

सलामी बल्लेबाज ईशान किशन (89) और श्रेयस अय्यर (57 नाबाद) की तूफानी पारी के बाद भुवनेश्वर कुमार (नौ रन पर दो विकेट) और यजुवेन्द्र चहल (11 रन पर एक विकेट) की कातिलाना गेंदबाजी की बदौलत भारत ने गुरूवार को पहले टी-20 मुकाबले में श्रीलंका के खिलाफ 62 रनों से आसान जीत दर्ज की। अटल बिहारी वाजपेयी इकाना क्रिकेट स्टेडियम पर अनुभव और युवा जोश से भरपूर भारतीय टीम ने खेल के हर विभाग में मेहमान टीम के खिलाफ उम्दा प्रदर्शन करते हुये तीन मैचों की श्रृखंला में 1-0 की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल कर ली है। टास हार कर पहले बल्लेबाजी करते हुये भारत ने दो विकेट पर 199 रन बनाये और मेहमान टीम को जीत के लिये 200 रन का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य दिया जिसके जवाब में श्रीलंका की टीम निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट खोकर 137 रन ही बना सकी। ईशान किशन (89) की आतिशी अर्धशतकीय पारी और कप्तान रोहित शर्मा (44) के साथ 111 रन की शतकीय भागीदारी ने भारत को मजबूत शुरूआत दी जिसमें बाद में श्रेयस अय्यर की कातिलाना (57 नाबाद) रनों की पारी ने तड़के का काम किया जो मेहमान टीम को दवाब में लाने का सबब बना। विजयी लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका को पहला झटका मध्यम तेज गेंदबाज भुवेनश्वर कुमार ने पारी की पहली गेंद पर दिया जब पथुम निशांका क्लीन बोल्ड होकर पवेलियन लौट गये। कुमार ने अपने दूसरे और पारी के तीसरे ओवर कामिल मिशारा (13) के तौर पर एक और झटका दिया। मिशारा बाहर जाती गेंद को छेड़ने के प्रयास में मिड विकेट पर खड़े रोहित शर्मा के हाथों आउट हुये। दवाब में आयी श्रीलंका को भारतीय गेंदबाजों ने उबरने का मौका नहीं दिया और जनिथ लियानगे (11), दिनेश चांदीमल (10) और दसुन सनाका (3) का विकेट झटक कर भारत की जीत को आसान करने की रूपरेखा तैयार कर दी। इस बीच दूसरे छोर पर डटे चारिथ असलंका (53 नाबाद) ने पांच चौकों की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया। उनके साथ चमका करूणारत्ने (21) और दुश्मंथा चमीरा (24 नाबाद) ने टीम की हार के अंतर को कम करने का भरपूर प्रयास किया। गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन से गदगद कप्तान रोहित शर्मा ने अपने सात गेंदबाज आजमाये जिसमें पदार्पण मैच खेल रहे दीपक हुड्डा भी शामिल रहे हालांकि 24 रन देने के बाद भी उन्हे विकेट के लिये अगले मैच का इंतजार करना पड़ेगा।


इससे पहले रोहित और ईशान की सलामी जोड़ी ने शुरूआत से ही आक्रामक खेल का मुजाहिरा किया। झारखंड के धाकड़ बल्लेबाज ईशान को रोकने के लिये श्रीलंका के गेंदबाजों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही थी। पूरी लय में खेल रहे ईशान ने विदेशी गेंदबाजी आक्रमण की बखिया उधेड़ते हुये मैदान के चारों ओर कई आकर्षक शाट जमाये। उन्होने टी-20 करियर का अपना दूसरा अर्धशतक मात्र 30 गेंदो में दो छक्के और छह चौकों की मदद से पूरा कर लिया। इस बीच उन्हे एक जीवनदान भी मिला। उधर, दूसरे छोर पर डटे कप्तान रोहित शर्मा का पूरा सहयोग युवा बल्लेबाज को मिल रहा था। दोनो बल्लेबाजों ने 11वें ओवर की दूसरी गेंद तक भारत के स्कोरबोर्ड पर सैकड़ा टांग दिया था। इस बीच रोहित लाहिरू कुमारा की नीची गेंद को खेलने से चूके और गेंद उनका आफ स्टंप उखाड़ कर ले गयी। अर्धशतक पूरा करने से चूके रोहित ने अपनी 44 रन की निजी पारी में 32 गेंद खेल कर दो चौके और एक छक्का जमाया। बाद में क्रीज पर आये श्रेयस अय्यर ने मात्र 28 गेंदों में पांच चौके और दो छक्कों की मदद से नाबाद 57 रन बनाये। टी-20 करियर में यह उनकी चौथी अर्धशतकीय पारी रही। इस बीच ईशान की पारी का अंत 16वें ओवर की आखिरी गेंद पर हुआ जब वह दसुन शनाका को पुल करने के प्रयास में डीप मिड विकेट पर खड़े जनिथ लियानागे के हाथों लपके गये। विकेटकीपर बल्लेबाज ने अपनी 89 रनों की पारी में 56 गेंद खेलकर तीन जानदार छक्के जड़े और दस बार गेंद को सीमारेखा के पार पहुंचाया। ईशान के आउट होने के बाद क्रीज पर आये रविन्द्र जडेजा तीन रन बनाकर नाबाद लौटे। फटाफट क्रिकेट में पदार्पण कर रहे दीपक हुड्डा को हालांकि बल्लेबाजी में अपने जौहर दिखाने का मौका नहीं मिला। वेस्टइंडीज के खिलाफ हाल ही संपन्न हुयी श्रृखंला के बाद भारतीय टीम आज छह बदलाव के साथ मैदान पर उतरी थी। विराट कोहली,ऋषभ पंत और शार्दुल ठाकुर को आराम दिया गया है वहीं रितुराज गायकवाड को चोट लगने के कारण अंतिम समय में टीम में शामिल नहीं किया गया। लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर ने घंटा बजाकर मैच शुरूआत होने का औपचारिक ऐलान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.