भारत एटीएम : हर किराना स्टोर बना बैंक

नयी दिल्ली ,

भारत एटीएम ऐप ग्रामीण भारत के लिए नए दौर की डिजिटल बैंकिंग सेवाएं लेकर आया है। दिसम्बर 2020 में महाग्राम द्वारा लॉन्च किया गया यह ऐप देश भर में ग्रामीणों को विभन्न प्रकार की बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराता है। उपभोक्ता अपने घर के नज़दीक ही कई तरह की ई-बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। महाग्राम के संस्थापक राम श्रीरात ने आज यहां कहा कि यह प्लेटफॉर्म स्थानीय किराना स्टोर को बैंक में बदल देता है, जो ग्रामीणों को बैंकिंग, ऋण और बीमा सेवाएं उपलब्ध कराते हैं। इस फिनटेक स्टार्ट-अप के साथ 4.5 लाख छोटे मर्चेन्ट्स जुड़ चुके हैं, जो 2000 करोड़ रुपये के सकल लेनदेन मूल्य के साथ 14,645 पिन कोड को कवर करते हैं। उन्होंने कहा कि अब डिजिटल बैंकिंग सेवाएं सिर्फ भारत के शहरी इलाकों तक ही सीमित नहीं हैं बल्कि गांवों के लोग भी अपनी सुविधानुसार बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। ऐसा एक अग्रणी एनईओ बैंकिंग ऐप, भारत एटीएम की वजह से ही संभव हो पाया है, जो छोटे मर्चेन्ट्स एवं उपभोक्ताओं को व्यापक सेवाएं प्रदान करता है। वे किराना स्टोर्स के साथ साझेदारी करते हैं, जहां उपभोक्ता बैकिंग सेवाएं पा सकते हैं।


श्री राम ने कहा कि इस तरह गांवों में रहने वाले लोगों को नज़दीकी बैंक शाखा तक जाने के लिए लम्बी दूरी तय नहीं करनी पड़ती और उनके समय एवं पैसे दोनों की बचत होती है। बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के, उपभोक्ता इन स्थानीय स्टोर्स पर पैसा जमा कर सकते हैं, नकद निकाल सकते हैं और ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं। वे अपनी स्थानीय भाषा में कई अन्य बैंकिंग सेवाओं का लाभ भी उठा सकते हैं। इस ऐप के ज़रिए रीटेल उपभोक्ता अपने पास के स्टोर में आधार कार्ड और पैन कार्ड की कॉपी (ई-केवाईसी के लिए) देकर बैंक खाता खोल सकता है। इस तरह भारत ऐप के माध्यम से वे पैसा और समय बिना खर्च किए आसान एवं सुविधाजनक बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। भारत एटीएम जहां एक ओर ई-बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराता है, वहीं दूसरी ओर ग्रामीणों में आत्मविश्वास भी उत्पन्न करता है। वे बेहिचक रीटेल स्टोर जाकर अपना बैंक खाता खोलने के लिए कह सकते हैं, जो पहले कभी इतना आसान नहीं था। उपभोक्ता को सिर्फ ऐप डाउनलोड करना होता है और अकाउन्ट बनाना होता है।


उन्होंने कहा कि केवाईसी पूरा होने के बाद यूज़र भारत एटीएम की सेवाओं का लाभ उठा सकता है। अब तक भारत एटीएम 20 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को बैंकिंग सेवाओं से लाभान्वित कर चुका है, इसके 30 फीसदी उपभोक्ताओं ने भारत एटीएम की सेवाओं को दोबारा इस्तेमाल किया है। ऐप ने छोटे दुकानदारों के लिए ‘इन्वेस्टमेन्ट एण्ड लेंडिंग’ का प्रस्ताव भी पेश किया है, जिसमें उन्हें बचत पर 10 फीसदी तक का रिटर्न मिलता है और वे कम ब्याज दरों पर ऋण लेकर अपना कारोबार बढ़ा सकते हैं। उन्होंने कहा , ‘‘न सिर्फ छोटे मर्चेन्ट्स बल्कि भारत एटीएम ने भी गृहिणियों, वरिष्ठ नागरिकों और किशोरों की ज़रूरतों को महत्व दिया और 10 फीसदी सालाना की उंची रिटर्न पर उनके लिए अनूठा ‘रेकरिंग डिपोज़िट प्रोग्राम’ भी लेकर आए हैं। भारत एटीएम की शुरूआत के बाद से इसका विकास तेज़ी से हुआ है, हमारे ग्रामीण उपभोक्ताओं की संख्या भी तेज़ी से बढ़ रही है। हमने 2022 के अंत तक 20 लाख रीटेल स्टोर्स और खोलने की योजना बनाई है और हम अगली तिमाही में अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए एक करोड़ डॉलर की राशि जुटाएंगे।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *