डीजीसीए ने विस्तारा को नोटिस दे कर विवरण मांगा

नयी दिल्ली।  नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने विस्तारा एयरलाइन की उड़ानों के रद्द होने को गंभीरता से लेते हुए एयरलाइन को नोटिस जारी कर इस बारे में पूरा विवरण देने के निर्देश दिए हैं। आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि डीजीसीए ने चालक दल की अनुपलब्धता सहित विभिन्न कारणों से विस्तारा की विभिन्न उड़ानों के रद्द होने को देखते हुए एयरलाइन को नोटिस जारी कर रद्द एवं विलंबित होने वाली उड़ानों पर दैनिक जानकारी तथा संपूर्ण विवरण प्रस्तुत करने के लिए कहा है।

सूत्रों ने बताया कि एयरलाइन को यह सुनिश्चित करने के लिए भी कहा गया है कि सीएआर सेक्शन-3, सीरीज एम, भाग-4 के प्रासंगिक प्रावधानों – “बोर्डिंग से इनकार, उड़ान रद्द होने और उड़ानों में देरी के कारण एयरलाइंस द्वारा यात्रियों को प्रदान की जाने वाली सुविधाओं” का अनुपालन किया जाये, जैसे अग्रिम सूचना, यात्रियों को रिफंड का विकल्प, मुआवजा (यदि लागू हो) आदि।

सूत्रों के अनुसार इसके अतिरिक्त, डीजीसीए के अधिकारी उपरोक्त सीएआर का अनुपालन सुनिश्चित करने और यात्री असुविधा को कम से कम करने के लिए स्थिति की लगातार पैनी निगरानी कर रहे हैं। रिपोर्टों के अनुसार मंगलवार दो अप्रैल को विस्तारा एयरलाइन की 70 उड़ानें रद्द होने की संभावना है। सोमवार एक अप्रैल को, एयरलाइन ने 50 से अधिक उड़ानें रद्द की थीं और कम से कम 160 से अधिक उड़ानें विलंबित हुईं थीं।

विस्तारा एयरलाइन ने कहा कि पायलटों की कमी और अन्य कारणों ने पिछले कुछ दिनों में उसकी सेवाओं को बाधित कर दिया है। आने वाले दिनों में और भी उड़ानें रद्द होने की आशंका है। एयरलाइन के एक प्रवक्ता ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में चालक दल की अनुपलब्धता सहित विभिन्न कारणों से बड़ी संख्या में उड़ानें रद्द की गईं हैं और देरी हुई है। हमने अपने नेटवर्क में पर्याप्त कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने के लिए अपनी उड़ानों की संख्या को अस्थायी रूप से कम करने का फैसला किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.