दशकों से उपेक्षित रहे किसानों को नई स्फूर्ति मिली – मुख्यमंत्री 

लखनऊ,

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर घर नल, प्रधानमंत्री आवास योजना, सौभाग्य योजना, आयुष्मान भारत योजना जैसी योजनाओं ने गांव और गरीब के कल्याण तथा विकास को सुनिश्चित किया। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, न्यूनतम समर्थन मूल्य और किसान सम्मान निधि जैसी योजनाओं द्वारा दशकों से उपेक्षित रहे किसानों को नई स्फूर्ति मिली। स्किल इण्डिया, स्टैंडअप इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, मेक इन इंडिया और प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के माध्यम से भारतीय अर्थव्यवस्था को गति देने के साथ-साथ युवाओं को एण्टरप्रिन्योरशिप से जोड़कर युवा भारत को आत्मनिर्भर बनाया गया।

विश्व को भारत की अमूल्य देन है योग, जानें क्यों चुना गया 21 जून और मुस्लिम  धर्मगुरुओं का क्या कहना है | Hari Bhoomi
 विश्व योग दिवस तथा प्रयागराज कुम्भ ने भारत की संस्कृति को वैश्विक बनाया 

कुम्भ की ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक पृष्ठभूमि - चतुर्थ अध्याय
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने विश्व योग दिवस तथा प्रयागराज कुम्भ के माध्यम से भारत की संस्कृति को वैश्विक पहचान दिलाई। यह उन्हीं के प्रयासों का ही परिणाम है कि आज दुनिया के लगभग 200 देश भारत की महान सांस्कृतिक-आध्यात्मिक योग परंपरा के साथ जुड़कर गौरव की अनुभूति कर रहे हैं। वर्ष 2019 में प्रयागराज में कुम्भ सम्पन्न हुआ। कुम्भ को यूनेस्को ने ‘मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर’ के रूप में स्वीकार कर भारत के सांस्कृतिक गौरव को बढ़ाय़ा। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह उत्तर प्रदेश का सौभाग्य है कि लोकतंत्र के मन्दिर संसद में काशी का प्रतिनिधित्व प्रधानमंत्री जी कर रहे हैं। आज काशी में माँ गंगा की निर्मलता और अविरलता प्रधानमंत्री के संकल्प को स्पष्ट करती है। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि उनकी कामना है कि हमें हमेशा समाज के अन्तिम पायदान के अन्तिम व्यक्ति से लेकर अंतरिक्ष तक भारत के विकास की पटकथा लिखने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सान्निध्य और मार्गदर्शन प्राप्त होता रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *