माफिया अब बेल पर नहीं जेल में रहना करते हैं पसंद : पाठक

लखनऊ, 

पूर्ववर्ती समाजवादी सरकार को अपराधी और माफियातत्वों का शरणदाता बताते हुये उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक ने बुधवार को कहा कि योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में कानून का राज स्थापित किया है और माफिया तत्व अब बेल पर नहीं बल्कि जेल में रहना पसंद करते हैं। पाठक ने यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सपा सरकार ने कानून व्यवस्था को चौपट करके रख दिया गया था। पूरे प्रदेश में अपराध चरम पर था। माफिया अपराधी जेल में नहीं बेल पर रहते थे और कानून व्यवस्था के लिए चुनौती बनते थे। यह केवल सत्ता द्वारा मिले संरक्षण की वजह से था, माफिया सरकारी गाड़ियों में मंत्रियों के साथ घूमते थे। आज परिदृश्य बदला है अपराधियों और माफियाओं को उत्तर प्रदेश में आप बेल नहीं पसंद है, वे अपनी बेल खारिज कराकर जेल जा रहे हैं, पुलिस के आगे आत्म समर्पण कर रहे हैं।


उन्होने कहा कि जनता भूली नहीं है कि कैसे थानों पर सपा के गुंडे, माफिया और अराजक तत्व कब्जा करके बैठते थे। सत्ता का संरक्षण पाकर कासगंज और मथुरा में कई-कई दिनों तक उपद्रव होते रहे हैं और सपा मुखिया के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी, जिसका दुष्परिणाम रहा कि उपद्रवियों का हौसला इतना बुलंद हो चुका था कि एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी की हत्या तक कर दी गई। आज उत्तर प्रदेश में माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में कानून व्यवस्था पर जीरो टालरेंस की नीति पर काम हो रहा है। कानून मंत्री ने कहा कि जो अवैध संपत्ति अपराधियों ने अपनी गुंडागर्दी की बदौलत कमाई, उसमें आज योगी सरकार में 1866 करोड़ से अधिक की संपत्ति को कब्जा मुक्त कराने का काम किया है, साथ ही पिछली सरकारों में संरक्षित संगठित माफिया गिरोह के नेटवर्क को हमारी सरकार ने ध्वस्त किया है। पाठक ने कहा कि योगी सरकार ने पिछले साढ़े चार सालों में गैंगेस्टर एक्ट के तहत 36990 अपराधियों को गिरफ्तार किया है, 523 लोगों पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्रवाई की है। वहीं पिछली सरकार में सपा नेताओं के नेतृत्व में थाने चलाये जाते थे, थानों में बैठकर वसूली होती थी, आज पूरे प्रदेश में कानून का राज है। योगी के नेतृत्व में हमने 214 नये थानों की स्थापना की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *