सुरेश रैना ने इतिहास रचकर धौनी को छोड़ा पीछे

नई दिल्ली। भारत और आयरलैंड के बीच खेले गए दूसरे टी-20 मैच में टीम इंडिया के मध्यक्रम के बल्लेबाज़ सुरेश रैना ने इतिहास रच दिया। रैना के योगदान के चलते ही टीम इंडिया ने इस मैच में 213 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। रैना ने इस मैच में 69 रन बनाए, लेकिन उन्होंने ये इतिहास अपनी पारी की वजह से नहीं बल्कि किसी और वजह से रचा।

रैना ने ऐसे रचा इतिहास

आयरलैंड के साथ खेला गया दूसरा मुकाबला भारतीय टीम के लिए बेहद खास रहा। क्योंकि ये टीम इंडिया का 101वां टी-20 मैच था। दूसरे टी 20 मैच में मैदान पर उतरते ही रैना भारत की ओर से एकलौते ऐसे खिलाड़ी बन गए जिन्होंने टीम इंडिया का पहला, सौंवा और 101वां टी-20 मैच खेला। इस सीरीज़ का पहला टी-20 मैच भारत का सौंवा टी-20 मैच था। जिसे भारत ने 76 रन से जीता था। उस मुकाबले में रैना 10 रन बनाकर आउट हो गए थे।

रैना ने इस उपलब्धि को बनाया यादगार

रैना ने इस मैच में 45 गेंदों पर 69 रन की पारी खेलकर अर्धशतक जड़ा। ये रैना का क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में पांचवां अर्धशतक रहा। रैना ने अपना अर्धशतक 34 गेंदों पर पूरा किया। दूसरे विकेट के लिए रैना ने लोकेश राहुल के साथ मिलकर 106 रन की पारी खेली। रैना के लिए तो ये मैच खास रहा ही साथ ही साथ टीम इंडिया ने भी इस मैच में टी-20 की अपनी सबसे बड़ी जीत दर्ज की। भारत ने ये मैच 143 रन से जीता।

धौनी रह गए रैना से पीछे

सुरेश रैना के साथ-साथ पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के पास भी इस उपलब्धि को हासिल करने का मौका था, लेकिन आयरलैंड के खिलाफ दूसरे मैच में धौनी को आराम दिया गया और दिनेश कार्तिक को उनकी जगह टीम में शामिल किया गया और इस वजह से धौनी अब रैना से पीछे रह गए हैं। धौनी ने भारत का पहला और सौवां टी-20 मैच खेला है। श्रीलंका और पाकिस्तान के बाद भारत तीसरा ऐसा देश बना, जिनके खिलाड़ियों ने देश के पहले और 100 वें टी-20 मुकाबले में हिस्सा लिया हो।

में 10 रन बनाकर आउट हुए थे।