सावधान! ज्यादा टीवी देखने का शौक बन सकता है सेहत के लिए खतरा

टीवी देखना भला किसे पसंद नहीं होता। आजकल लोग अपने मनोरंजन के लिए घंटों तक टीवी पर फिल्में, सीरियल्स या कुछ और देखना पसंद करते हैं। वहीं, कुछ लोगों को टीवी देखने की इतनी आदत होती है कि वह खाना भी उसके सामने बैठकर ही खाते हैं। मगर आपको बता दे कि आपकी यह आदत आपको खतरे में डाल सकती है। जहां टीवी देखने से आपको आनंद मिलता हैं और थकान भी दूर होती हैं लेकिन टीवी देखना जितना मजेदार है उतना ही सेहत के लिए खतरनाक भी है। अगर आपको भी ज्यादा टीवी देखने की आदत है तो पहले उससे होने वाले नुकसान के बारे में जान लें। आइए जानते हैं टीवी देखने से आपको क्या-क्या नुकसान होता है।
टीवी देखने के नुकसान
1. लंबे समय तक लगातार झुक कर टीवी देखने से रीढ़ की हड्डी और गर्दन से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए हमेशा 2 घंटे तक टीवी न देखें।
2. ज्यादा टीवी देखने से मानसिक स्वास्थ्य को नुकसान के साथ, चिड़चिड़ा स्वभाव, स्मरण शक्ति कमजोर और निर्णायक शक्ति कम हो सकती है।
3. अनिद्रा, तनाव, बैचेनी, नाइटमेयर आदि रोगों का कारण भी आपका ज्यादा टीवी देखना है।
4. इससे लोगों में बड़ों का सम्मान करना और छोटों के प्रति स्नेह की भावना भी कम होती है। इसके अलावा ज्यादा टीवी देखने से आप आलसी हो जाते हैं और कोई काम भी नहीं करते।
5. ज्यादा टीवी देखने से न सिर्फ आपका समय खराब होता है बल्कि इससे बच्चों का पढ़ाई या किसी और काम में मन नहीं लगता। इससे आपकी शारीरिक और मानसिक शक्ति कमजोर होने लगती है।
6. ज्यादा टीवी देखने से आपकी दिनचर्या अनियमित हो जाती है। आपके पढ़ने, सोने, उठने और खाने का समय भी खराब हो जाता है। इससे आप में एकाग्रता घटती है और मन में बुरे विचार आते हैं।
7. टीवी देखने से शरीर के किसी भी हिस्से में पैरालायसिस और लकवा मार सकता है। इसलिए अगर आप भी ज्यादा टीवी देखते हैं तो सावधान हो जाएं।
8. रिसर्च के अनुसार, कलर्ड टीवी देखने से हर साल करीब 500 बच्चे ब्लड कैंसर के शिकार हो जाते हैं। इसलिए बच्चों को कम से कम टीवी देखने का आदत डालें और उन्हें आउटडोर गेम्स खेलने के लिए कहें।
9. गर्भवती महिलाओं के लिए तो ज्यादा टीवी देखना और भी खतरनाक है। इससे उनके ऊपर टीवी की हानिकारक किरणों का गलत प्रभाव पड़ता है, जिससे मां और शिशु दोनों को नुकसान हो सकता है।
10. ज्यादा देर तक टीवी देखने से आपकी मांसपेशियां बहुत लंबे समय तक निष्कि्रय रहती है। यह आपके मेटाबॉलिजम को ठीक से कार्य नहीं करने देता और आपका वजन धीरे-धीरे बढ़ने लगता है।