योजनाओं को हमने धरातल पर उताराः योगी

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिन के दौरे पर लखनऊ पहुंचे हैं जहां वो इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने वहां विभिन्न राज्यों से आईं प्रधानमंत्री आवास योजना की लाभार्थियों से सीधे संवाद किया।

पिछली सरकारें सारी योजनाओं को लागू करने में विफल रहीं

प्रधानमंत्री के साथ मंच पर मौजूद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि पिछली सरकारें सारी योजनाओं को लागू करने में विफल रहीं थी। योगी ने आगे कहा कि हमारी सरकार ने स्वच्छ बारत मिशन के तहत अब तक 5 लाख से अधिक शौचालय बनाए हैं। साथ ही कहा कि हम जल्द ही म्युनिसिपल बांड लाने वाले हैं। आगे कहा कि देश मे सबसे अधिक 653 नगर निकाय यूपी में है, 3 साल पहले जब केंद्र की स्मार्ट सिटी, अमृत योजना और प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की शुरुआत हुई थी तो पूर्ववर्ती सरकार इन योजनाओं का सही क्रियान्वयन नहीं कर पाई, लेकिन पिछले 16 महीने में हमारी सरकार ने इन योजनाओं का सही क्रियान्वयन सही तरीके से सुनिश्चित किया है।

2 अक्टूबर 2018 तक प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त कर सकें

हमारी सरकार शहरी विकास को लेकर दृढ़ संकल्पित है इसीलिए इन योजनाओं के साथ-साथ अन्य योजनाओं को भी आगे बढ़ाते हुए शहरी क्षेत्र 5.5 लाख शौचालय बनाए है, 2 अक्टूबर 2018 से डिस्पोजेबल प्लास्टिक को भी पूर्णतः बंद करने के लिए हमने तैयारी की है। अपने कार्यकाल के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि मुझे यह बताने में कोई संकोच नहीं है कि हमने 16 महीने में कई योजनाओं पर काम किया है।

देश के लक्ष्य को प्राप्त करने में उत्तर प्रदेश की बड़ी भूमिका

स्वच्छ भारत मिशन के तहत उत्तर प्रदेश में प्रमुख रूप से काम किया है। और देश के लक्ष्य को प्राप्त करने में उत्तर प्रदेश की बड़ी भूमिका है। पहले लोग उत्तर प्रदेश में इस योजना पर विफल थे। प्लास्टिक पूरी दुनिया के लिए बड़ी समस्या है।

हम कोशिश कर रहे हैं कि 2 अक्टूबर 2018 तक प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त कर सकें, हम प्लास्टिक के बेहतर विकल्प पर काम कर रहे हैं।