पुलिस बल को बेहतर प्रशिक्षण देकर जनविश्वास हासिल किया जा सकता है: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस बल का सदस्य होना एक गर्व की बात है। पुलिस बल को बेहतर प्रशिक्षण देकर जनविश्वास हासिल किया जा सकता है। जनता को पुलिस द्वारा सुरक्षा की अपेक्षा रहती है। अपराध ही नहीं बल्कि अशांति, कानून-व्यवस्था, यातायात दुर्घटना आदि में भी जनता सबसे पहले पुलिस को ही सूचित करती है। आधुनिक समय में समाज के अन्दर महिलाओं, बच्चों कमजोर वर्गाें एवं दिव्यांगों के प्रति संवेदनशीलता का परिचय देना अत्यन्त आवश्यक है, क्योंकि बगैर मानवीय दृष्टिकोण अपनाये कोई भी व्यक्ति समाज के लिए उपयोगी नहीं हो सकता।

देश में पहली बार प्रदेश पुलिस में वर्चुअल क्लास रूम की स्थापना का एक अभूतपूर्व और प्रशंसनीय कार्य किया

मुख्यमंत्री जी आज यहां इन्दिरा भवन में आरक्षी प्रशिक्षुओं के प्रशिक्षण सत्र के शुभारम्भ अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से उत्तर प्रदेश पुलिस बल के 33 हजार 337 नये रिक्रूट आरक्षीगण को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देश में पहली बार प्रदेश पुलिस में वर्चुअल क्लास रूम की स्थापना का एक अभूतपूर्व और प्रशंसनीय कार्य किया गया है। इस प्रशिक्षण का सकारात्मक प्रभाव समाज में देखने को मिलेगा। किसी भी मनुष्य के लिए जीवन में अनुशासन का विशेष महत्व होता है। उन्होंने आरक्षियों से अपेक्षा की कि वे सयंमित व अनुशासित रहकर प्रशिक्षण प्राप्त करंे।